कभी ऐशो आराम की जिंदगी जीने वाली यह बहनें आज भीख मांग कर कर रही हैं गुजारा!!

Trends

जिंदगी कभी आपको किस मोड़ पर लाकर खड़ा कर  दे आप अनुमान भी नहीं लगा सकते यही हुआ गोमती नगर लखनऊ में रहने वाली इन दो बहनों के साथ राधा और मांडवी दो बहने हैं इन्होंने गरीबी का नाम कभी सुना ही नहीं था दोनों बहनों ने एक संपन्न और सुखी परिवार में जन्म लिया था परंतु उनकी किस्मत देखिए आज यह दोनों भीख मांग कर अपना गुजारा कर रही है।

इन बहनों के पिता डॉक्टर  एम एम माथुर बलरामपुर अस्पताल में मेडिकल ऑफिसर थे। इन दोनों का एक आलीशान घर शहर के पॉश इलाके गोमती नगर के विजय खंड में स्थित था।  इनके घर में सारी सुख सुविधाएं थी।

फिर इनकी जिंदगी ने एक  ऐसा  मोड़ लिया जिसने के इनकी जिंदगी बदल कर रख दी। एक हादसे से बहन बहनों ने अपने मातापिता दोनों को ही खो दिया। उसके बाद उनकी मानसिक स्थिति ऐसी बिगड़ी कि फिर कभी सही ना हो सकी दोनों बहनों की शादी भी नहीं हो सकी। दोनों बहने ग्रेजुएट है और उनकी उम्र करीब 60 से 65 साल की है।

इस हादसे के बाद बड़े भाई ने स्थिति को संभालने की कोशिश की उसने नौकरी ढूंढने की कोशिश की परंतु कोई नौकरी नहीं मिली ।इससे वह विवश होकर भीख मांगने की कगार पर गया। पिछले ही साल इनके भाई की भी मृत्यु हो गई है अब इन दोनों का कोई सहारा नहीं बचा है रिश्तेदार भी इनकी कोई खबर नहीं लेते हैं पड़ोसी बताते हैं कि बड़े भाई की मृत्यु के बाद इनका कोई सहारा नहीं था मृत शरीर भी 2 दिन तक ऐसे ही पड़ा रहा।  तब पड़ोसियों ने मिलकर किसी तरह उसका अंतिम संस्कार किया उनका आलीशान  घर भी अब खंडहर में तब्दील हो चुका है। जो कि उनकी कहानी बयां करता है।

कुछ सामाजिक कार्यकर्ता  और  पड़ोसी से इनका खाने पीने का गुजारा हो जाता है। यह कहानी दर्शाती है कि कैसे एक हादसा आपकी जिंदगी बदल के रख सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *